MSME 59 मिनट में एक करोड़ तक का लोन ले सकते हैं

National

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सूक्ष्म, लघु व मझोले उद्योगों (एमएसएमई) को दीवाली पर बड़ा तोहफा दिया है। पीएम ने शुक्रवार को डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म (डीएलपी) का लोकार्पण करते हुए एमएसएमई को 59 मिनट में एक करोड़ रुपये तक के कर्ज ऑनलाइन देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जितनी देर में आप घर से कार्यालय पहुंचते हैं, उतनी देर में एक करोड़ के कर्ज को मंजूरी मिल जाएगी। उन्होंने उद्योगों को कई सुविधाएं देने की भी घोषणा की।

मोदी ने कहा कि ," कर्ज़ स्वीकृति के लिए जानबूझकर एक घंटा नहीं रखा। नहीं तो, दो से तीन घंटे होने में देर नही लगती। यह नया भारत है। इसमें बैंक के चक्कर लगाना खत्म।" 

पीएम मोदी का यह तोहफा सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्योगों के लिए किसी सौगात से कम नही क्योंकि इस सेक्टर की 63 मिलियन यूनिट्स इस समय देश में कार्यरत हैं और यह देश के लगभग 111 मिलियन लोगों को रोजगार प्रदान करता है और जीडीपी में इसकी लगभग 30% की हिस्सेदारी है। इस सेक्टर से 45% विनिर्माण उत्पादन प्राप्त होता है और कुल निर्यात में 40% की हिस्सेदारी है।

ऑनलाइन पोर्टल डीएलपी के जरिये कैसे मिलेगा लोन?

एमएसएमई उद्यमी ऑनलाइन आवेदन करेंगें। तीन तरह की सूचनायें जीएसटी फाइलिंग, आयकर रिटर्न्स और बैंक स्टेटमेन्ट को जोड़कर आवेदक का कर्ज तय किया जाएगा। 59 मिनट में उन्हें रेस्पॉन्स दे दिया जाएगा।

ये सहूलियतें भी मिलेंगी।

  1. सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के लिए 25% ख़रीदारी एमएसएमई से करना जरूरी। इसमे भी 3% महिला उद्यमियों से।
  2. जीएसटी रजिस्टर्ड एमएसएमई को एक करोड़ तक के कर्ज के ब्याज में 2% छूट।
  3. श्रम विभाग के रूटीन इंस्पेक्शन ख़त्म। 10% उद्यमों का ही निरीक्षण।
  4. केंद्र का सभी कंपनियों के लिए ई- गवर्नमेंट मार्केट प्लेस (जेम) की सदस्यता जरूरी।
  5. तकनीकी अपग्रेडेशन के लिए देशभर में टूलरूम का विस्तार कर 20 हब बनेंगे। इसके लिए 6000 करोड़ रुपये का पैकेज।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *